technology

[Technology][threecolumns]

Health

[Healthcare][bleft]

Business

[Business][twocolumns]

Network Marketing

[Network Marketing][grids]

Did You Know These Interesting Facts About WhatsApp? (Hindi)

क्या आप व्हाट्सएप से जुड़े इन रोचक तथ्यों के बारे में जानते हैं?




पारम्परिक एसएमएस  के मुकाबले पिछले एक दशक के दौरान मुफ्त इंस्टेंट मैसेजिंग ऍप्स की लोकप्रियता लगातार बढ़ती जा रही हैं. दुनिया के कई देशों में जहां खासकर एसएमएस के लिए पैसे अदा करने थे, उनके लिए WhatsApp जैसे इंस्टेंट मेसेजिंग ऍप्स वरदान सिद्ध हो रहा हैं. 


इंस्टेंट मेसेजिंग ऍप्स की सूची में WhatsApp सबसे अधिक लोकप्रिय हैं. विशेषकर भारत जैसे देशों में जहां जिओ के लॉन्चिंग के बाद इंटरनेट के इस्तेमाल में हुई रिकॉर्ड बढ़तोरी के कारण WhatsApp की लोकप्रियता अधिक बढ़ी हैं; और आज भारत WhatsApp का इस्तेमाल करनेवालों की सूची में दुनिया में 2 नंबर पर हैं.


WhatsApp दुनिया में सबसे अधिक लोकप्रिय इंस्टैंट मेसेजिंग एप्लीकेशन हैं और दिनों दिन इसकी लोकप्रियता में वृद्धि होने की बात सामने आ रही हैं. उपयोगकर्ताओं की संख्या, जनरेट होने वाला रेवेन्यू और ग्राहकों को इस एप्लीकेशन से मिलने वाला समाधान इन बातों ने WhatsApp को विश्व का तीसरे नंबर का सबसे ज्यादा डाउनलोड होने वाला ऍप बना दिया हैं वहीँ इसकी लोकप्रियता इतनी बढ़ चुकी हैं कि, रोज एक मिलियन से अधिक नए यूजर्स इस एप्लीकेशन के साथ जुड़ रहे हैं. 


आइये जानते हैं WhatsApp के बारे में कुछ रोचक तथ्य. 


WhatsApp INC.  की शुरुआत 2009 में याहू के पूर्व कर्मचारी ब्रायन एक्टन और जान कौम ने की थी.

2007 में याहू कंपनी छोड़ने के बाद ब्रायन और जॉन दक्षिण अमेरिका की यात्रा पर गए थे. इस यात्रा के दौरान उन्होंने iPhone के ऐप स्टोर में उपलब्ध मैसेजिंग ऐप की मर्यादाओं पर गौर किया. एक बेहतर मेसेजिंग ऍप की निर्मिति करना उनका लक्ष्य बना. इसके लिए उन्होंने एप्पल द्वारा निर्मित ऑपरेटिंग सिस्टम (iOS) के डेवलपर, इगोर सोलोमेनिकोव को अपने साथ लिया और 2009 में WhatsApp INC. की शुरुआत की.


WhatsApp INC. एक ऐसी कंपनी हैं जिस में मार्केटिंग डिपार्टमेंट नहीं हैं 

व्हाट्सएप के संस्थापक हमेशा एक 'विज्ञापन से मुक्त' सरल ऐप बनाना चाहते थे, जिसकी वजह यह थी की यूजर को ऍप के मुख्य उद्देश्य से भटकना नहीं पड़े.

WhatsApp INC. कंपनी ने शुरुआत से ही विज्ञापन और मार्केटिंग में पैसा इन्वेस्ट करने के खिलाफ थी.  इसलिए कंपनी ने शुरूआती दौर से पीआर और मार्केटिंग स्टाफ को नियुक्त नहीं किया गया था.

व्हाट्सएप हमेशा नए यूजर्स को आकर्षित करने के लिए किसी भी ताम-झाम नहीं चाहता था. मार्केटिंग में लाखों डॉलर का निवेश करने के बजाय, उन्होंने WhatsApp को दुनिया का बेहतर मेसेजिंग ऍप बनाने पर अपनी पूँजी लगा दी, जिसमें वह काफी हद तक अपने उद्देश्य को हासिल भी कर सके.


क्या आप जानते हैं WhatsApp INC. में केवल 55 कर्मचारी और 50 इंजीनियर थे


जिस कंपनी के 100 करोड़ से ज्यादा यूजर्स हो उस कंपनी में कितने सारे लोग काम करते होंगे? हजारो...? ज्यादातर लोग यही जवाब देंगे. लेकिन ज्यादातर लोगों को ऐसी कंपनी की उम्मीद होती है  कि, 1 बिलियन से अधिक उपयोगकर्ता जिस कंपनी में हो उसमें हजारों कर्मचारियों की जरुरत तो पड़ेगी ही, लेकिन व्हाट्सएप WhatsApp INC. आपकी इस सोच से कई आगे का सोचती हैं. 

यह कंपनी केवल 55 कर्मचारियों और बैक-ऑफिस में 50 इंजीनियरों के साथ पूरे विश्वभर में अपन साम्राज्य बनाने जा रही थी. 


व्हाट्सएप का बाजार मूल्य कुछ देशों के जीडीपी से अधिक है

व्हाट्सएप का बाजार मूल्य जापान जैसे टेक्नोलॉजी के बादशाह कहलाने वाले देश के सकल घरेलू उत्पाद से ज्यादा हैं. क्यों चौंक गए ना?  इसके अलावा दुनिया का कई देशों का जीडीपी whatsapp के बाजार मूल्य से कम हैं.



Google ने खो दिया whatsapp को खरीदने का मौक़ा

व्हाट्सएप ने 2014 में Google द्वारा दिए गए अधिग्रहण प्रस्ताव ठुकरा दिया था. गूगल ने अमेरिकन $10 बिलियन को whatsapp को खरीदने का ऑफर रखा था. केवल कुछ महीनों बाद फेसबुक ने इसे $19 बिलियन में खरीद लिया. यह उस समय तक का सबसे बड़ी बिज़नेस डील थी. 

2014 में फेसबुक ने व्हाट्सएप को खरीद लिया लेकिन फिर भी whatsapp एक स्वतंत्र मेसेजिंग एप्लीकेशन के स्वरुप रखने का फैसला किया गया, जो आगे चलकर एक प्रॉफिटेबल कदम सिद्ध हुआ. क्यूंकि उसके बाद व्हाट्सएप का कारोबार और लोकप्रियता बढ़ती ही जा रही हैं.


'विज्ञापन से मुक्त' पालिसी की वजह से हुआ था भारी आर्थिक नुकसान

'विज्ञापन से मुक्त' एप्लीकेशन की पालिसी के चलते 2014 में whatsapp को 232.5 मिलियन डॉलर का नुकसान हुआ था. मगर आजकल, बिज़नेस whatsapp जैसे प्लेटफ़ॉर्म का उपयोग कर कंपनी लाभ कमा रही हैं.

आज समय में व्हाट्सएप बिजनेस का उपयोग 3 मिलियंस से अधिक कंपनियां कर रही हैं. 

ज्यादातर कंपनियां अपने उपभोक्ताओं के साथ सीधे कांटेक्ट में रहने के लिए इस एप्लीकेशन का उपयोग करती हैं.


निश्चित तौर पर आकड़े सामने नहीं आये हैं, मगर कुछ विश्लेषकों के अनुसार हाल के समय में व्हाट्सएप का रेवेन्यू $ 112.5 मिलियन हो सकता हैं. कई साल काफी नुकसान सहने के बाद बदलती हुयी नीतियों की वजह से व्हाट्सएप को निकट भविष्य में काफी बड़े लाभ की उम्मीद हैं. 


... फिर भी दुनिया में सबसे प्रतिबंधित एप्लीकेशन हैं whatsapp

whatsapp के एप्लीकेशन सम्बंधित 12 देशों के सरकारों को आपत्ति हैं. इसके कारण इन देशों के नागरिकों को whatsapp का एक्सेस नहीं मिल सकता. फेसबुक 7 देशों में बैन हैं तथा ट्विटर भी 7 देशों में उपलब्ध नहीं हो सकता. करीब छह देशों के यूजर्स यूट्यूब को एक्सेस नहीं कर सकते.

इस तुलना में अगर देखा जाए तो व्हाट्सएप को दुनिया में सबसे अधिक प्रतिबंधित एप्लीकेशन कह सकते हैं. व्हाट्सएप पर प्रतिबंध लगाने वाले देशों की सूची में चीन, बांग्लादेश, ईरान, उत्तर कोरिया, सीरिया, यूएई जैसे देश शामिल हैं. 


एंड्रॉयड पर चलने वाले व्हाट्सएप में 60 भाषाओं का इस्तेमाल हो सकता हैं 

एंड्रॉइड डिवाइसों पर इंस्टॉल किया गया व्हाट्सएप वैश्विक दर्शकों को ज्यादा से ज्यादा अपनी भाषा में सन्देश पहुंचाने की सुविधा प्रदान करने की क्षमता रखता हैं. एंड्राइड यूजर्स 60 भाषाओँ में सन्देश भेज सकते हैं.


व्हाट्सएप ने जान कौम को अरबपति बनाया 

जान कौम, whatsapp संस्थापकों में से एक हैं. उनका शुमार अब प्रसिद्ध अरबपतियों में होता हैं. जान ने अपने सपनों के नक्शेकदम पर चलते हुए कॉलेज की पढ़ाई छोड़ दी थी. ग्रेजुएशन के पहले ही वह याहू में ज्वाइन हो गए थे. आज उनकी कुल संपत्ति $ 9.5 बिलियन से ज्यादा हैं.



WhatsApp ने संपत्ति के मामले में नासा को भी पछाड़ा

आंकड़ों के अनुसार 2014 में व्हाट्सएप को फेसबुक ने जिस कीमत पर खरीदा था, वह दुनिया की बड़ी कंपनियों के मूल्य से अधिक राशि थी. नासा का कुल मूल्य 17 बिलियन डॉलर हैं. इस मामले में whatsapp ने केवल नासा को ही नहीं बल्कि महँगी मोटरसाइकिल का ब्रांड हार्ले डेविडसन जिसका बाजार मूल्य $ 14.1 बिलियन हैं एवं अमेरिकन एयरलाइंस जिसका बाजार मूल्य 12.3 बिलियन डॉलर है ऐसे बड़े कंपनियों को भी पछाड़ा हैं. 


वौइस् कॉल और वीडियो कॉल्स में व्हाट्सएप विश्व में दूसरे नंबर पर 

प्रतिदिन 2 बिलियन मिनट्स के वौइस् और वीडियो कॉल्स व्हॉट्सएप के माध्यम से होते हैं जिसमें 100 मिलियन वौइस् कॉल्स और 55 मिलियन वीडियो कॉल्स होते हैं. तुलना में स्काइप पर 3 बिलियन मिनट के वौइस् एवं वीडियो कालिंग होती हैं. स्काइप इस मामले में पूरे विश्व में एक नंबर पर हैं. 

व्हाट्सएप पर हररोज 65 बिलियन सन्देश भेजता हैं 

व्हाट्सएप के अनुसार उसके उपयोगकर्ता मैसेजिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से हर दिन 65 बिलियन से अधिक संदेशों की आदान प्रदान करता हैं. 

कहा जाता हैं कि, 2017 के नववर्ष अवसर पर 75 बिलियन संदेशों के साथ 13 बिलियन इमेजेज और 5 बिलियन वीडियोस भेजे गए थे. 

वहीँ अकेले भारत में 2018 के नव वर्ष अवसर पर 20 बिलियन से अधिक मेसेजेस भेजे गए थे. 

आप व्हाट्सएप पर साप्ताहिक कितने मिनट्स बिताते हैं?

एक व्यक्ति औसतन हर हफ्ते लगभग 200 मिनट्स व्हाट्सएप पर बिताते हैं. जिसमें व्यक्ति अपना परिवार, मित्र, परिचित एवं व्यावसायिक संदेशों का आदान-प्रदान करता हैं.

सबसे अहम् बात यह हैं कि, सोशल मीडिया पर शेयर होने वाले 30 प्रतिशत सेल्फी व्हाट्सएप द्वारा शेयर किये जाते हैं. क्यूंकि, व्हाट्सएप पर सेल्फी लेना और उसे शेयर करना आसान बनाया गया हैं.

कई देशों में व्हाट्सएप समाचारों का नंबर एक स्रोत माना गया हैं

रायटर द्वारा 2017 में किए गए एक सर्वेक्षण में पाया गया हैं कि, व्हाट्सएप दुनिया भर के कई देशों में समाचार का बहोत बड़ा स्रोत हैं. मलेशिया के 51 प्रतिशत लोग व्हाट्सएप को समाचार का अहम् स्रोत मानते हैं.

व्हाट्सएप पर 100 करोड़ से ज्यादा ग्रुप्स हैं 

अपने अपने व्यक्तिगत इंटरेस्ट के अनुसार व्हाट्सएप पर 100 करोड़ से ज्यादा ग्रुप हैं. जिसमें बिज़नेस या प्रोडक्ट प्रमोशन से लेकर धार्मिक जानकारी और राजकीय विचारधारा से सम्बंधित प्रमुख ग्रुप्स माने जाते हैं.

भारत के 400 मिलियन से अधिक लोग व्हाट्सएप का इस्तेमाल करते हैं 

भारत जैसे विशाल देश में व्हाट्सएप उपयोगकर्ताओं की संख्या करीब 400 मिलियन होने का अनुमान हैं. यह देश व्हाट्सएप के सबसे बड़े बाजारों में से एक माना गया हैं. वहीँ अमेरिका जैसे देश में यह आंकड़ा 20 मिलियन से थोड़ा अधिक होगा.

छोटे व्यवसायिकों के लिए व्हाट्सएप वरदान सिद्ध हो रहा हैं 

कई छोटे एवं मध्यम बिज़नेस पर्सन्स का मानना हैं कि, 2020 में व्हाट्सएप उनके लिए वरदान सिद्ध  हो रहा हैं. कस्टमर्स और क्लाइंट्स  संपर्क में रहने का व्हाट्सएप सबसे बढ़िया माध्यम हैं. 84 प्रतिशत छोटे व्यावसायिक अपने उत्पाद एवं सर्विसेज व्हाट्सएप के माध्यम से बेच रहे हैं.


डिस्क्लेमर: इस आर्टिकल में दी गयी जानकारी इंटरनेट से जुड़े कई  स्रोतों एवं वेबसाइट से संग्रहित की गयी हैं. जिसका क्रेडिट कई लोगों को हम देना चाहेंगे. जिन्होंने इस इनफार्मेशन को संग्रहित किया हम उनको धन्यवाद देते हैं. 
Post A Comment
  • Blogger Comment using Blogger
  • Facebook Comment using Facebook
  • Disqus Comment using Disqus

No comments :


Current Affairs

[Current Affairs][bleft]

Climate change

[Climate Change][twocolumns]

Lifestyle

[Lifestyle][twocolumns]

Animal Abuse

[Animal Cruelty][grids]